अन्तगड़सूत्र मूलपाठ | Antgad Sutra Moolapath

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Antgad Sutra Moolapath  by कल्याण ऋषी - Kalyan Rishi

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about कल्याण ऋषी - Kalyan Rishi

Add Infomation AboutKalyan Rishi

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
अणुगारा भायर सदोदरा पे त् । सि पूनम (्धि 39४ ५७० :२2२०२२२९०७० ०७० ७2 ५ हि है (ए. ; मै कि 5. न ए न हि 6) पा /ज (0 ्ि, 4 09 40 पक िंदूडि हा के को 14 1 हा फट (५०१५ ; ट >> 7: | ध््डः हा 555 5 िः 2... ग्पि प: प्रिय पि जे मर “| /# ्ि (7 रटि | पर दि मि » जप 142 हर मम हिल. व पलट 5 | गय प्र टू पर र्फि ५; ध्रा ४६ ० ् 9 ..._ 6२ फ्ि क्र तर टि ४ पि / | ट हि छ.. 1 पह # गा कह 2 किन जा पा हम हाँ 9 (ँ है| |! प्‌ न « प्ज / “5 «1४० न ओि आ प्क कि नि 2 कि 4 ३ 1 कलह फ्ः [ए ्ि न िः 1 । छ रत 1 ि 5 । दर हे ऊि छ न: 7. हॉट छिप 5, क्‍किफए फ (5. +च (7 ि ट्र [5९1 7 रि ्ि हि हि ६ ४ ि ण ि ि ४ छ, ( कक म | $ | बे हि घ ब्प्रः ध्द -- ए 0 एड पे ५ भ. छत दैटः तर ] न्‍न्‍क.. ड हि व अं 1१0 ह पर 5 पा फछि हिट ५५५ 2३५४७ 9 ५१% २५% ५००७ ०० ० ०७२ ०४ ॥प है ट, ०२४ ५ षृ हैं. च्छामो य॑ भंते ! तुत्भेहिं ह्ट्र दे श्‌ 1... शई। का तवसा अप्पाणं भावमाणा णं सं 121 7 न वर्ड जा या समाशा भगुन्न ! हुए भौर संयम ् च्डे | और अनगार-अवस्था धारण की हि ि कर (८ पट | प् कट £ हट प्र । ४१2 /' | प्र & 4७ द ४ ५८ उयो न दमारी शी | हम श्ध 0 हिजबन्‍्न्‍न, का कस अस >मन सम कल हे न्‍ > ल डी 95: कपल अल मर २० १४५०२ २० ०४२००० ०7 ५३०२: ०72 ० द्रअबलनज-निक कष्तय रडँ कप जान स हु 1 २55 नएच्चण जे बन पर्यस्त नि हि घ5्ढे कर जावन 8 न्‍नयक कक कक 3३०३ ७:७७२ ०-७३ ०४०५०५२ ०७७ २:४०




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now