दशवैकालिक सूत्र | Dashavaikalik sutra

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : दशवैकालिक सूत्र - Dashavaikalik sutra

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about आत्माराम जी महाराज - Aatmaram Ji Maharaj

Add Infomation AboutAatmaram Ji Maharaj

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
अस्तावता | उय् छुग्य के साथन डटि खऋजद हे | शी रे, और ३ 1च के को ५३ ॥ ९१ ४ 1५ ५ न ॥ फू हे र कर छा ६०५ ही अर हक + रीरे. रे 0 ५. भू ए | न छः ्ि रू पं च 2 जा ्शुए ४ $ जे 4 ५5 (हुए आर हरे वड है घी हर हि छे + छि 5 हा $ऐे ३ | ही के हि कप 7 है बी * पर ७ ४. 9 | | ५# क्औैक5 कमर कर _ और पर गए भर 1 धर 59 रे | की 1 शी है बे ६ के ३ एफ को [5 1 के ।. आंद शेफि शी |! पति शशि ७5 0 हे ४ के पफ 4॥ 1 ' गैर. (हि छ& ६३5 7 ३४ डर दा के नि भी _ स्थगूद्ईन,; सस्ययुद्धान '+न- $ढ न स्म्द खन्या छा 2 दा का स्वसूप ञ् ना... दद्ा चुके खाधना छिप मोह हे 1 भर रा फी पि दस हि के जी | ् कि 1 भू 1 ३ बख्त अचन्छिचित स्वरूप भरी 4५ डस्छ खादबचना जन्स भ््ु न द्र क्र ब््प ि छ्डी > व्यय ऋषर +्+ झ्त्वयाद, ऋआट पा




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now