स्वीट सिक्सटीन | Sweet Sixteen

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : स्वीट सिक्सटीन - Sweet Sixteen

एक विचार :

एक विचार :

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
आभार इस पुस्तक की कहानी का ताना-बाना मेरे दिमाग में एक लड़की से सोशल साइट पर बात करते हुए बना। उस लड़की ने मुझसे कहा, "क्या मैं कोई ऐसा उपन्यास लिख सकता हूँ जिसका नायक दलित हो?" उसका सवाल खत्म होते ही मैंने उसे जवाब दिया, “हाँ क्यों नहीं!" फिर कुछ और बातों के बाद उसने पूछा, “क्या कोई कहानी आपके दिमाग में है?" मैंने कहा, "अभी तो नहीं।" इस बात के तकरीबन तीन महीने बाद ये उपन्यास पूरा करने के बाद मैंने उसे पड़ने के लिए भेजा। तो यह कहानी उसे बेहद पसंद आई पर उसने मेरे द्वारा दिए गये उपन्यास के शीर्षक 'टूटते खंडहर' को एडिट करके 'स्वीट सिक्सटीन' कर दिया। अब ये उपन्यास रीड पब्लिकेशन से अपने इसी शीर्षक 'स्वीट सिक्सटीन' नाम से प्रकाशित हो रहा है। आभार मेरी उस सोशल साइट दोस्त को जिसकी वजह से मैं एक भीषण सामाजिक मुद्दे पर एक कहानी लिख सका।




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now