महाराजा | Maharaja

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
शेयर जरूर करें
Maharaja by दीवान जरमनी दस - Deevan Jarmani Das

एक विचार :

एक विचार :

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

दीवान जरमनी दस - Deevan Jarmani Das के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है | जानकारी जोड़ें |

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(देखने के लिए क्लिक करें | click to expand)
१. महाराजा का ए उनका नाम थाना कनेत हि हाइनेस फ्जन्द-ए-दिलबन्द . दौलत इंग्मीशिया राजनए राजगान महाराजा सर रनबीर सिंह राजेस्द बहादुर जी० सी० भ्राई० ई० के ० सी० एस० वर्गरह । से बय बहरे थे । उन्होंने ४५ साल को पक्की उम्र पाई । रन्दोंने भ्रपती हुकूमत को सुगहुली जुदली मनाई उस मोक़े भारत सम्राट इंग्लैंड के बादशाह ने उनके ऊँचे ख़िताव श्रोर तमगे भेंट रियासत भौर भारत की खिदमत के एवश में नही- बहिक ब्रिटिश हुकूमत भौर विदेशी सरकार को भोर काक्लिन्तारीफ भ्रंजाम देने के ददले में महाराजा रात को काफी देर में सोते थे । उनका क़ायदा था कि प्रगले दिन शाम को ४ बजे उनकी मींद टूटने का जब वत़त हो तब उनकी श्रप्रेस महा रानी होरोधी भीर महल की रानियाँ हल्के-हत्के उनके पैर दवा भौर धीमी मगर सुरोनी भ्रावाज्ध में गीत गाती रहे । जागने पर महाराजा को बेड टी देश की जाय । महाराजा कुछ वहमी भादत के थे । रात को रोज सनका जारी होता था कि भाँयें खुलने पर सबसे पदले महल की फ़ला-फलं रानियं उसकी नजरों के सामने पढ़ें । उनको यकीन था कि भ्रगले २४ घटे राखी-सुशी गुज़ारने के लिए यहे इन्तज़ाम जरूरी है 1 इसके श्रपते ज्योहिपी पंडित करनचन्द के साथ जन्मपत्र शरीर ज्योतिष के ग्रत्य खोले हुए महाराजा घंटों बैठ कर पहले से हो विधार किया करते थे कि किन-किन नामों वाले सोगों को श्रगले रोज पहली मुलाकात में गे पेश किया लाय |. महाराजा के भारामगाह के बाहर उनके प्राइम मिनिस्टर सर विह्वारीलाल र्पास्तत के होम मिनिस्टर पढित राम रतन साथ में दुसरे मिनिस्टर लीग श्र वर्दीधारी ए० ही० काँग अंगरक्षक व्गरह हर रोज खड़े-खड़े महाराजा के सो कर उठने का इन्तज्ार किया करते थे । महाराना का सदेल ऋषि-कुटी कहलाता था 1 उसे गावंदान थी कहते अप




User Reviews

अभी इस पुस्तक का कोई भी Review उपलब्ध नहीं है | कृपया अपना Review दें |

अपना Review देने के लिए लॉग इन करें |
आप फेसबुक, गूगल प्लस अथवा ट्विटर के साथ लॉग इन कर सकते हैं | लॉग इन करने के लिए निम्न में से किसी भी आइकॉन पर क्लिक करें :