रेखाएँ और चित्र | Rekhaen Aur Chitr

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Rekhaen Aur Chitr by उपेन्द्र नाथ अश्क - Upendra Nath Ashak

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about उपेन्द्रनाथ अश्क - Upendranath Ashk

Add Infomation AboutUpendranath Ashk

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
हिन्दी-उद््‌-भाषी दोस्तों से @ भाषा की समस्या से मेरा सम्बन्ध, और किसी नात नहीं तो साहित्य के रिश्ते, लगभग २५ वर्ष से रहा है। मरी मात-भाषा पंजाबी है, लेकिन प्राइमरी की शिक्षा मैंने उदूं में पायी श्र छठी के बाद बी० ए.० तक थोड़ी बहुत हिन्दी तथा संस्कृत सीखी । पहले दो-एक वपं पंजावी मं लिखता रहा फिर झ्ाठ-दस वर्ष उदूं में । फिर दस वष॑ दोनों भाषाओं में और इघर कई कारणों से पांच वप से केवल हिन्दी मं! इस तरह साहित्यिक के नाते इस समस्या से मेरा गहरा सम्बन्ध रहा है । इसी बीती हुई लगभग चौथाई सदी पर जब में नज़र डालता हूँ तो पाता हूँ८-कि इस समस्या के तीन रूप हैं । ० राजनीतिक ® जातीय @ साहित्यक जहां तक पहले रूप का सम्बन्ध है, इस लम्बे रसे मं मेने इसे कई पहलुओं से देखा है । उदू यहाँ की झाम जनता की भाषा कभी नहीं रही ।




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now