हिन्दुस्तान का दंड संग्रह | Hindustan Ka Dand Sangrah

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : हिन्दुस्तान का दंड संग्रह - Hindustan Ka Dand Sangrah

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about अज्ञात - Unknown

Add Infomation AboutUnknown

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
উই गिवर्नभिरका नुकसान करेफेमयोनन से मिटना किसी ले खक्के किसीवल्तुसेमिसपरडवनमेट काका दे स्टाग्यलगाह़ो सथवा रिकरनाकिसीलिखदम सेकिसी स्टाम्पके लि उसके लियेस , शिक्ियांगिकाममेंणाचुकाहै- २६३ मिरानाकिसी विन्‍्हा निस्तेवाना जाय कि स्टाम्पकार्म मै छा সাই ৩১০২ नापमोरसम्बेधी कलहिद्गसेराम मेलानावेलनेककिसी भूंठे लैज्ञार के - +६४रूलकिद्वेशकाममेंलाना किसी भेडे वार सघवानापके। २६म्टियोरसथदानापप्रशरखने-.. भरेवारमधवानोपवननिष्पयवाेचने - ` .. प्सध्याय९७ আনব হভারট . नताभेरसुशीलनामेप्िप्नडालने चालेणपराधेंकेदिपयमें ६5 |सशावधानीसिसीकाममें जिस्सेफलना किसी जीव जोसि भकेशेगरा णानिसंभदिन्हे।- आ ।




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now