नयचक्र | Nayachakra

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Nayachakra  by डॉ. हुकमचन्द भारिल्ल - Dr. Hukamchand Bharill

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about डॉ. हुकमचन्द भारिल्ल - Dr. Hukamchand Bharill

Add Infomation About. Dr. Hukamchand Bharill

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
विषय-सूची क्रम सं. १. ए, ३. ८ ^ ^< ० १० ११ १२. १३ १४ १५. १६. १५७. १८ १९, २०. १ प्रकाशकीय अपनी बात मगलाचरण प्रथम अध्याय : विषय प्रवेश . नयज्ञान की आवश्यकता , नय का सामान्य स्वरूप . नयो की प्रमाणिकता मृल नय कितने दितीय अध्याय : निश्चय ओर व्यवहार निश्चय व्यवहार स्वरूप ओर विषयवस्तु निश्चय-व्यवहार . कृष प्रश्नोत्तर निश्चयनय ` भेद-प्रभेद निश्चयनय ` कुठ प्रश्नोत्तर व्यवहारनय भेद -प्रभेद व्यवहारनय क प्रश्नोत्तर पचाध्यायी के अनुसार व्यवहारनय के भेद -प्रभेद निश्चय-व्यवहार ` विविध प्रयोग प्रश्नोत्तर तृतीय अध्याय : व्रव्याधिक ओर पययाधिक दरव्यार्थिक-पयया्थिक स्वरूप ओर विषय वस्तु द्रव्यार्थिक-पर्यायार्थिक ` क्छ प्रश्नोत्तर द्रव्यार्थिकनय . भेद-प्रभेद प्ययार्थिक नय . भेद-प्रभेद चतुर्थ अध्याय : नेगमादि सप्तनय ज्ञाननय, अर्थनय, शब्दनय ज्ञाननय, अर्थनय, शब्दनय : नैगमादि सप्तनयोकेरूपमे पृष्ठ संख्या १७ १९ २३ ३२ ३८ ६९ ७६ ष १११ १२८ १५२ १६८ १८६ १९९ २१४ रर८ २३३ २४०




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now