राष्ट्रभाषा का इतिहास | Rastrabhasha Ka Itihas

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : राष्ट्रभाषा का इतिहास - Rastrabhasha Ka Itihas

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about किशोरीदास वाजपेयी - Kishoridas Vajpayee

Add Infomation AboutKishoridas Vajpayee

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
( ‰५ ) विषय पृष्ठ युक्तप्रान्त ( अब उत्तर प्रदेश ) की राजभाषा हिन्दी---'सम्मेलन! के बम्बई - अधिवेशन में उत्साह और दृ्षे--राहुल जी पर कम्यूनिष्ट पार्टी का कोप---अनेक राज्यों की राजमाषा हिन्दी--शासन-गब्द्‌-कोष-- विधान-परिपद्‌ की कांग्रेस-पार्टी--मेरठ- सम्मेलन---अफगान-मिशन और प्रोफेसर रेणु--राष्ट्रमाषा - व्यवस्था-परिषदू--परिषद- निर्णय का प्रभाव--राजस्थान की .अग्नगा- .. मिता--मध्य-प्रान्त में प्रगति---२६ अगस्त १९४९ की विधान-परिषद्‌ की कंग्रेसपार्टी की वेठक--मत गिनने में गड़बड़ी--पक्ष और विपक्ष--उ्द पर गर्व-- चौथा मसविदा-- २ सितम्बर को फिर बेठक--देश में हल- चघल--मतगणना में फिर गठढनड़ी- अतेम्बलो-अध्यक्षो की मीटिग-सेठ गोविन्द्दास जी के सशोधन--श्री नागप्पा की हिम्मत ॥ उत्तराद्धे विधान-परिपदू में संघर्ष १४३--१७६ अन्तिम रस्‍्साकसी--टण्डन जी का कांग्रेस-दुक से सम्बन्ध - विच्छेद--मु शी - भायगर फार्मूछा--श्री ८ण्डन जी का भाषण--- संघर्ष का अन्तिम फल--नजों छुछ हुआ,




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now