नायाधम्मकहाओ | Nayadhammakahao

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : नायाधम्मकहाओ  - Nayadhammakahao

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about श्रीमद् अभयदेव सूरी - Srimad Abhaydev Suri

Add Infomation AboutSrimad Abhaydev Suri

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
नए] नायाघम्मकद्दाओं 11 ধু उदाईंतरत्तददगोबययोवयकारण्णाधिशविएसु उद्नयतणमंदिण्सु दहुरपयंपिएसू संपिंडियद्रियममरमहुयरिपहकरपरिडितमत्तठप्पयकुसुसा- सबलोड्महुरगुंजंतदेसभाएसु उबवणेसु परिसामियचंदसूरगईंगणपणह- नक्खत्ततारगैपदे इंदाउदबँद्धचिंधपट्टंमि अंबरतले उड्डीणबढागपंतिसोहत- सेहवन्दे कारंडगचक्रवायकलहसउस्सुयकरे संपत्ते पाईसंमि काले ण्हायाओ कयबलिकम्साओं कयकोड्यमंगलपायच्छित्ताओ कि ते वरपायपत्तनेउर- मणिमेदलहारैरइयउवचियकडगसुङ््यविचित्तवरवल्यथंभियमुयाओ कुंड- छउब्जोवियाणणाओ रयणभूसियंगीओ नासानीसासवायवोज्ध «चक्खु- हर॑ ब्णणफरैससंजुर्त हयलालापेलवाइरेयं धवरकणयखचियंतकम्सं आगासफलिदसरिसप्यमं असुयं पबरपीरदियाभो ढुगुल्सुकुमालउत्तरिज्जाओ सब्वोउयसुरभिकुसुमपवरमहसोहियासिगओ काछार्गेरुपवरधूवधूवियाओ सिरीसमाणवेसाओ सेयणयगंधदस्थिरयणं दुरूढाओ समाणीभो सकोरंट- महदामेणं छत्तेण धर्जिमाणेणं चदप्पभं्यसेरलियनिमरदंडसंखडद्‌- दगरयअमयमदियफणपुंजसननिगासचड्चामरवाल्वीजियंगी ओ তিতা रजा सद्धिं दत्थिखंधवरगएणं पिठ २ समणुगच्छमाणीओं चाउरंगिणीए सेणाएँ सहया हयाणीएण॑ गयाणिएणं रहाणिएणं पायत्ताणीएणं सब्बिट्ठीए सब्वज्जुईए जाव निग्घोसनाइयरवेणं रायगिहं नयरं सिंघाडगतिगचउक्क- चच्चरचरउंम्मुहमद्ापहपहेसु आसित्तसित्तसुइयसमज्जिओवछितं॑ জান सुगंधवरगंधिय गंधवट्टिमयं अवछोएमाणीओ नांगरजणेणं अभिनदिष्ज- माणीओ गुच्छलयारुक्खगुम्मवरल्लिगुच्छोच्छाइय सुरम्म वेभारगिरिकढग- पायमूल सब्वओ समता आहिंडेमाणाओ २ ोदटढं विणयंति । तं जइ णं अदमवि मेदस अब्भुगाएम জুন दोहं विणिज्जामि । (14) तए णे सा धारिणी देवी तसि डोहठंसि अविणिज्जमाणंति असंपत्तदोहला असंपुण्णदोहछा असंमाणियदोहला सुक्का भुक्खा निम्पंसा ओछग्गा #प्रेलग्गसरीरा पमइलहुव्बला किछता ओम॑ंथियवयणनयणकमला पंडइयस॒द्दी करयछमलियव्व चंपगमाला नित्तेया दीणविवण्णवयणा जहोः चियपुप्फगेधमलारुंकापदारं अणभिरसमाणी कीडारमणकिरियं परिहावे-




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now