उत्तर प्रदेश की सांगीतिक परंपरा गायन शैलियों के विशेष संदर्भ में | Uttar Pradesh Ki Sangitik Parampara Gaayan Sheliyon Ke Vishesh Sandarbh Mein

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : उत्तर प्रदेश की सांगीतिक परंपरा गायन शैलियों के विशेष संदर्भ में - Uttar Pradesh Ki Sangitik Parampara Gaayan Sheliyon Ke Vishesh Sandarbh Mein

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about श्रीमती शानू केसरवानी - Shreemati Shanu Kesarvani

Add Infomation AboutShreemati Shanu Kesarvani

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
इन सबके अतिरिक्त सबसे महत्वपूर्ण सहयोग मुझे मेरे देवतुल्य पति श्री राजेश सिंह केसरी से प्राप्त हुआ। उनकी इच्छा व सहयोग के विरूद्ध यह कार्य पूर्ण होना असंभव ही था। इस शोधकार्य के दौरान जहाँ कहीं भी मुझे जाना पड़ा वह अपने साथ ले गये और उन्होंने हर कदम पर मेरा साथ दिया। यहाँ तक कि शोध-प्रबन्ध के प्रणयन तक तक अपना बहुमूल्य समय देते हुये मुझे अनेक प्रकार से प्रेरणा, परामर्श व सहयोग देकर मेरी सहायता की है। उन्हें लिखित धन्यवाद देना मात्र औपचारिकता होगी। उनके इस योगदान को सदैव याद रखना ही मेरी उनके प्रति हार्दिक कृतज्ञता है | इस शोध कार्य को करते समय मैंने संगीत जगत के अनेक विद्वानों की पुस्तकों एवं लेखों का अध्ययन किया है, जिससे ये शोधकार्य पूर्ण हो सका है। मैं उन सबके प्रति हृदय से आभारी हूँ | টপ রঃ दिनांक এ 7७. ०9-०१ ००2, (श्रीमती शानू केसरवानी)




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now