परमात्मा मार्ग दशक | Parmaatma Maarg Dasak

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
Book Image : परमात्मा मार्ग दशक - Parmaatma Maarg Dasak

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about अमोलेख ऋषि - Amolekh Rishi

Add Infomation AboutAmolekh Rishi

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
(4 42-14-13 % न ८ 4 রং ৫৫ मार्ग । ९ ११ ग्रन्थका शुद्धी > ¦ परमात्म मागं दशकं ” प्रन्थका शुद्धी पत्र & ¢ प्छ पाठक गणो १ अवल निन्न लिखी प्रमणे स्वै पुस्तक को शु ५ ९ कर फिर यत्ना - युक्त पटीये जी ए রা 1५ ६ ? & र कक জাই ২ রি द ९ |< कनि करने | १६५. | { | तपान्वरजीः | तपेन्वरीजी ` = 6 १६ | | नाला नशा „ [१२ বানি | ध्यानम है ‰ १८ | নক व्र [१६८२] धरे पधारे. +$ ९ १९ २६ पाम्द पार्द „+ |< चनावे बनाने - है ध २९ | सर्व सर्प | १६८ २६ | क्षोड कितने करोड वर्ष मितने है (4 २६ डे पयाव 4 पयायः |: ४ १ ९ र्ता र्ता ` ध श्रु „ |६ | दद्राग | दाद्लाग „ |२२३| भगे | मोगमि द र २९ १४ जीप जीये १४२३ ।२० धमीपिं धर्मादि य श ३२ | पक দত্ত | १४६ |१ লঘনী |] अपे % हे 875 शापक | १४७ |१०| वेरोगी वैरागी रः र: 3 १ यते तो १४८ | २ माइन्द्रेयों मनइन्द्रियों বি ४ ६६ |७ | पाम्वार बारम्बार | १९८ | ७ न्यासी | सन्यासी & ६७. | ९ | ।चन्तनव चिन्तन + १ वेता त्वता £ ई ४६. | १४ धरकर धारकर | १४९ | प्ड़| मुच मुन £ ९९ |१८| श | समम |१६० | किया | किया £ ডি হি 1... स्या | १५९ |१०| सदके सदको এ ও ৫৫ |\ भनका | सनेक १९५ [१८ घव दर्यं ^ $ ९५ १२ स्याह । स्पाही १६० | १७ दाहा नाह 2 ५६ १०१ | १७ केदो क्िण्मोदीक्दो| ,, [१८४ ठते ইহ ¢ 2६ १०४ |१३| दय হত | ६१११९; स्माव জমাব কু की. | कारी | काका दी |१६२८ १६. चटा 1 ट ৪» के १०६|६| स्ाप् | पमादस्य | १६६ ¦ < दुद ` टर ई ९ १०७ | ६ | निक्षेया | निक्तेष (१६७१ জম > ॐ 8115] সর 1! क | 12৫. হী ही & ए ११८ १६४1 पूजमिए दूनीण्दाण्न्ठि | \६८ ट पुछं पृषदी ऐ £ ২২1৯০: সাং হব, লীতা জুইল : ७ य 1




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now