गोमटसार-कर्मकांड | Gomatsaar - Karmakand

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Gommatsaar - Karmakand by नेमिचंद्र सिध्दान्त चक्रवर्ती -Nemichandra Sidhdant Chakravarti

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about नेमिचंद्र सिध्दान्त चक्रवर्ती -Nemichandra Sidhdant Chakravarti

Add Infomation AboutNemichandra Sidhdant Chakravarti

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
( २८८ दोहा का भाव ) गरुणहानि दर्पण नाम गुणाहानि रण 17507 8 ,# द्रव्य परिमाण रू ऊपर की १ ६ २६ पचम गुणहानि ७ पः १० ऊपर की २ १२ श्र चतुर्थ गुणहानि १४ १६ २० ऊपर की ४ २४ १०४ तृततीय गुणहानि र्‌८ ३२ ५१० ऊपर की द् ४८ र्ण्८ द्वितीय गुणहानि ५६ ६७ ८० ऊपर की १६ रद्द ४१६ प्रथम गुणहानि घ ११२ १२८ ११२ ततीचे की १६ छे६ ३५२ प्रथम गुणहानि प० ६४ दि नीचे की पर शेप १७६ द्वितीत गुणहानि ४० ३२ र्८ नीचे की ७ २७ प्८ तृत्तीय गुणहानि २० | | पु ६४२२ १४२२




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now