अमर रिषभवीर | Amar Risabhveer

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
शेयर जरूर करें
Amar Risabhveer by देवीलाल सुखलेचा - Devilal Sukhlecha
लेखक :
पुस्तक का साइज़ :
17 MB
कुल पृष्ठ :
296
श्रेणी :
हमें इस पुस्तक की श्रेणी ज्ञात नहीं है |आप कमेन्ट में श्रेणी सुझा सकते हैं |

यदि इस पुस्तक की जानकारी में कोई त्रुटी है या फिर आपको इस पुस्तक से सम्बंधित कोई भी सुझाव अथवा शिकायत है तो उसे यहाँ दर्ज कर सकते हैं |

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

देवीलाल सुखलेचा - Devilal Sukhlecha के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है | जानकारी जोड़ें |

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(देखने के लिए क्लिक करें | click to expand)
पद पा है १३। के छः है. रआ आ। 7110: सोहनलालजी सिपानी को वैरगी भाई - बहनें आचार्य श्री नानेश समता पुरस्कार प्रदान करते हुए साथ में है राजस्थान सरकार के लोक निर्माण मंत्री और संघ के राष्ट्रीय मंत्री श्री मदनलालजी कटारिया(नल नल न कर. न कललनललनन नमक हा > ५ “है... ्रीआ. भा साधुमार्गीजैनसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष ३ है आ0 0 $ श्री उमरावर्शिहजी ओस्तवाल द्वारा राष्ट्रीय मंत्री & न्‍चछ श्री मदनलालजी कटारिया श्री सोहनलालजी- चै सिपानी को एक लाख का चैक प्रदान करते हुए ' साथ में है संघ के संगठन मंत्री श्री महेषजी नाहटाश्री सोहनलालजी सिपानी वैरागी भाई - बहनों केसाथ, राजस्थान सरकार के लोक निर्माण मंत्रीश्री गुलाबंघंदजी कटारिया अपनी शुभकामनाएँ ग्रदान करते हुएपा हे. अन्य 2 हलक ड शी नए, अर, श्री सोहनलाल जी सिपानी को पूर्व राज्यपाल श्री सुन्दर्यक्हडी भंडारी दौर उदयपुर संघ के उध्यक्ष श्री हस्नाथर्निहजी मोदी स्मृति चिन्ह प्रदान करते हुए




User Reviews

अभी इस पुस्तक का कोई भी Review उपलब्ध नहीं है | कृपया अपना Review दें |

अपना Review देने के लिए लॉग इन करें |
आप फेसबुक, गूगल प्लस अथवा ट्विटर के साथ लॉग इन कर सकते हैं | लॉग इन करने के लिए निम्न में से किसी भी आइकॉन पर क्लिक करें :