समवायाङग् | Samvayang

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Samvayang by कन्हैयालालजी मुनि कमल - Kanhayalalji Muni Kamal

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about कन्हैयालालजी मुनि कमल - Kanhayalalji Muni Kamal

Add Infomation AboutKanhayalalji Muni Kamal

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
( ११ ) समवाय १० सूत्र २५ ८ प्रकीर्णक सूत्र १४ स्थिति ,, ३ उच्छवासा दि सूत्र योग २५ ८ प्रकीर्णंक सूत्र १ श्रमणधर्म सूत्र १ चित्तसमाधिस्थान सूत्र १ मेरुपवंत के मूल का विष्कम्भ १ भगवान्‌ अरिष्टनेमि की ऊचाई १ कृष्ण वासुदेव की ऊचाई १ राम बलदेव की ऊचाई १ ज्ञानवृद्धि के नक्षत्र १ कल्पवक्ष योग ८ १४ स्थिति सूत्र ५ नरक स्थिति सूत्र ३ असुरकुमार स्थितिसूत्र १ बादर वनस्पति काय की उत्कृष्ट स्थिति १ व्यतरदेव की ४ विमानवासीदेब की योग ह४- हे उच्छवासादि सूत्र संबंधोग २५ 3 |




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now