भारत के तीन राजनीतिज्ञ | Bharat Ke Teen Rajnitigya

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : भारत के तीन राजनीतिज्ञ - Bharat Ke Teen Rajnitigya

लेखकों के बारे में अधिक जानकारी :

यशपाल शर्मा - Yashpal Sharma

No Information available about यशपाल शर्मा - Yashpal Sharma

Add Infomation AboutYashpal Sharma

योगेन्द्र शर्मा - Yogendra Sharma

No Information available about योगेन्द्र शर्मा - Yogendra Sharma

Add Infomation AboutYogendra Sharma

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
१५ सेना को रौदना करदिया था । सारा दिन युद्ध होतारहा । श्रन्त मे पर्वतेइवर बुरी तरह के बीच में फंसगए । उनका हाथी मारागया और उन्हें बन्दी बनालियागया । सिकन्दर विजयी होकर श्रपनी छावनी को लौटे । उनका हृदय चन्द्रगुप्त के प्रति श्रद्धा से भराहुत्रा था । वह श्रपने डेरे पर जाने से पहले चन्द्रगुप्त के पास गए 1 चन्द्रगुप्त ने सुस्कराकर कहा हमारी भविष्यवाणी पूर्ण हुई सम्राट मगध का राज्य इस समय भारत का सबसे बडा श्रौर घनादूय राज्य है । तुम्हारे नक्षत्र कहरहे है कि तुम्हे मगघ को विजय करने में सफलता मिलेगी । सिकन्दर श्रद्धापूर्ण वाणी से बोला मै अब सगध को जीतकर ही दमलूंगा महात्सा मैं कल ही मगब की आर कूच करूंगा ।




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now