जैन लेख संग्रह जैसलमेर ३ | Jain Lak Sanghar Jaisalmer 3

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Jain Lak Sanghar Jaisalmer 3 by पूरण चन्द नाहर - Puran Chand Nahar

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about पूरण चन्द नाहर - Puran Chand Nahar

Add Infomation AboutPuran Chand Nahar

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
28 . प्ऋश्ौ्ड८६ फ्णिए। है. 5 पा. एचएएी6 2. ै. 5 घवपर्डविधि०त ०0 7. सेपॉटाह 1टिपिंटा ए. उडी ताटा िएशाएंया एप०पघध्ठे उप फिं, धजाइसट्घिणा ० फ़िंच डिद्पापा है पवछडफाए, लैस, 1374. ( छाणाप दे्रछाइप औैरपिपुणडाऊं, 0. इ४, एक 81-85 2) *प उट्ःइ्डॉपिफए, सिटत रूस पिघ्रा्तपेटतें र०0६ छा समता 0 लिट पप्पर्टीपिति स्ध्प्प्तिरत, चध्टा पट तेल्डॉघएटलिएप 0 प.०त०एए8, प्ि€ पे व्यफाप्सि। 0 पट छाघप्पा परक्मुपप्डि, पिटाट 15 * ]स्इ€ 00105 0 उद्ाघड . 3००णावाताट्ट ० पथपालिएण फिट रिार्टिपपिटाई 0. घि5६ 9६०6 रशए1€ विणप .000ए९४ सोण्णए रूपए पट एप्मुफ़ुपांड, 80 सिज्यण पििध्यट्ट छाजण्पछुप फवपिपय पघिटाएा स्‍०. पु<&घशीपपंर 2. य्या05६ 0127 ए्णतहुट 0ई टितदडपाशिा हू दरजणवददद 3- . की पिएड उपाघहुट द स्टाफ रूस पाए उप पट पिरिटट्पॉघा एट्पॉपाएज़ पणऐटा पिट फ0०एपारिए्कपट 0. तय सेधिघतेासन झा, ६०. कटा सर म्ायपेएसार 2ठवेटठ छा 0 प्टिपएफ€5 पेट्पाए्क्राप्ते ६० तिफिटाटाए पूरपुर्एपिघपॉिसतास5, पएि०्पहुप एविाड सएट्पफूकट 2पते पट सर्प 0 पघिट उप ८०फासातता£:फि, एप प10:1. पड इछाएटड्ठ ६5 घाउजंट 38 6उपप्तापाह 9घप्डपाट53 0१2 पिघिट सुधा 0 सघुफृपप्छिघ्रद, पडा च्ण, र्श8 (डपघिया पिता, उडी पड 090घ्ाफघठ ७ घ्षुप दि घड 0घ९ 0 घ9६. फर्क 55205 0६ एघ6 उन छिएई. घ505लघार, 93श्टपटा, 15 एएट एट्प्0रूघ ०0६ एछ८ 8१०0४ 0. छाया <रटाउछापधिटाद एटटएएपडचे, रू पादप, कट्प्णतापह ए० पार डॉसिट्टााटएपड 0 घाट जिपुशायपिड, इप3555 रा. इदधप्दार सिघयधघंवाइ उप घट सरणातिं, हक पिप्टार्टाजाट 0ए6 0 घट ८ ०णुटटघि 0६ शा उु0परशट४ ६0 09प्सतेघ स.तेसपपपरघाटट ८3 ७ सपघशएंयपा, एप 10 एफ इ.5 001१5 20९८८55१%10 ६0. इशट0९. अर्टिए इउार एप्प दे 8४८०८०८४त९ उप पेन एछि€ यापर्डपटाए, साधते हे पपहााद 90प्६ £ए पट सप्छुघप्पऐट ए. दिट छिपिघतेडर पितड फडश्प इटाएं प्पराएप ध्परएशाथपटपे, 901६ 15 <०फ््टपाघड धर ए८४८१६८त८९७७ 0७ घुर्ट2६ 21६, चर नल ्ज




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now