प्राचीन भारतीय अभिलेख संग्रह खण्ड-1 | Prachin Bhartiya Abhilekh Sangrah Khand -1

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
Prachin Bhartiya Abhilekh Sangrah Khand -1  by श्रीराम गोयल - Shreeram Goyal

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about श्रीराम गोयल - Shreeram Goyal

Add Infomation AboutShreeram Goyal

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
56. 51, 38, 39, 60. 61. 62. 63. 64. 65. 66. 67. 68. 69, 70. 11. 12. 13. 4, 5. 6. या. प8. १9. हिऐ, 8. 82, 83. 84. 85, है. प्रथम कनिष्क का सुई विहार ताम्रपत्र लेख - वर्ष 11 प्रथम कनिष्क का सथुरा वोद्धमुति अभिलेख--वर्ष 14 प्रथम कनिष्क का मणिवचाला पापाण अभिलेख--वर्ष 18 कुरंम ताय्र मंजूषा लेख--वर्ष 21 अ तथा था कुरंम ताम्र मंजूपा लेख-वर्ष 2! इतथा ई प्रथम कमिष्क का मथुरा भूतिलेख--वर्ष 23 प्रथम कनिष्क का सहेत-महेत वोद्धमूर्ति लेख प्रथम कमिष्क का सहदेत-महेत पापाण छत्र यण्टिलेख वर्शिष्क का ईसापुर यूप -लेख--वर्ष 24 हुविष्क का मथुरा पाषाण लेख-वर्ष 28 हुबिष्क कालीन मथुरा बौद्ध-मूरति लेख--वर्ष 33 हितीय कनिष्क का श्रारा पाषाण लेख वर्ष 41 हुविष्क का मथुरा जैन मूर्ति लेख--वर्ष 44 हुविष्क का वर्डाक कांस्पपात्र-लेख--वर्ष. 51 (पुर्वाद्ध ) हुविष्क का वर्डाक कांस्य पाव-लेख-व्ष 51 (उत्तराद्धं ) प्रथम वासुदेव का मथुरा बोद्ध-मूर्ति छेख - वर्ष 64 प्रथम वाबुदेव का मथुरा मूर्ति लेख--वर्ष 80 विशाख मित्र का केलवन प्रस्तर-पात्र श्भिलेंख--व्षे 108 भद्रभघ का कोसम पाषाण लेख--वर्ष 86 भीमवर्मा का कोसममूति लेख--व्ष 139 सालवनेता भी सोमसोगी का नात्दसा यूप अभिलेख --भाग थे पा मालवनेता श्री सोमसोगी का नान्दसा यूप श्रभिलेख--भाग ब बर्नाला यूप अभिलेख--कृतत सं० 284 मौखरी सेनापति बल. के पुत्रों के दो बड़वा पाषाण-यूप अभिलेख मौखरी सेनापृति बल के पुत्रों का तीसरा बड़वा पाषाण यूप अभिलेख बर्नाला यूष अभिलेख--कृत्त सं» 335 घनुत्रात मौखरी का बड़वा यूप लेख भट्टिसोम सोगी का नांदसा यूप लेख यौधेयों का विजयगढ़ पापाण लेख नहयान का नासिक गुह्दालेख--वर्षे 41; 42, 45.




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now