धन्वन्तरि चिकित्सा विशेषांक भाग 2 | Dhanvantri Chikitsa Visheshank Part 2

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : धन्वन्तरि चिकित्सा विशेषांक भाग 2 - Dhanvantri Chikitsa Visheshank Part 2

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about श्री वी. एस. प्रेमी शास्त्री - Shri V. S. Premi Shastri

Add Infomation AboutShri V. S. Premi Shastri

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
जा कद कि चिकित्सा सम्बन्घो पुस्तक ऐलोपधिक सेडिकल प्रेक्टिदावर--डा० महेस्वर प्रसाद फिजीशन एन्ड सजन--ऐनोपं थिक दवाओं से चिकित्सा करने पर भारत में सबसे वड़ी' प्रमाणित पुस्तक । तमाम सनुष्य . रोगों के लक्षण, कारण, निरीक्षण पर उनको धक्प मूल्य घौषधियों, साडबे पेटेन्ट ददायों, सिवसचरों छोर नये २ इन्जेवशनों से चिकित्सा । ससार प्रसिद्ध डाक्टरों, सजनों के छुजारों छामुभूत योग । पुस्तक लो आपको सफल ऐलोपथिक डाक्टर दना सकती है । तीसरा अजडीशन'४८८ पृष्ठ कंपड़े की सुन्दर जित्द गुल्य दस रुपया ॥ माउनं इन्जेक्शन गाइंड--डा० जे० थी० सक्सेना एम० डी०, एस० बी० बी० एस | भूतपूर्व प्रोफेसर पेडिकल कालिज बनारस हिन्दू , यूनीवसिटो । इब्जेक्शन लगाकर आप रोगी से २-३ रुपया प्राप्त कर सकते हैं ोर मिनटों में रोग दूर कर सकते हैं । इस पुस्तक में छुर प्रकार के इन्जेक्शन लगाने की विधि, तमास रोगों के प्रसिद्ध सचुभूत इच्जेक्शन दर गौर लगाने के _आवदयक दादेश गौर एुर रोग के ८--१० चुने हुए भनुभूत इन्जेवशत सरकारी अस्पतालों में लगाये जाने वाले सेकड़ों इन्जेक्शनों का पूरा बूतान्त है । ६.५० रु० । ही ः बाल रोग चिकित्सा--अडा० एम० ए० नारवी । इस पुस्तक को पढ़कर अप बच्चों के रोगों के दविजेपज् बन सकते हैं । बच्चों को देख गौर उनके इशारों को समझकर उनके रोगों का विरीक्षण, उनका पालन पोपण, एक दिन के बच्चे से १० दप तक के चच्चों को होने वाले तमाम रोगों के कारण, लक्षण मोय उनका एलोपैथिक की छल्प मुल्य दवाओों पेटेन्ट दवानों इच्जेक्शनों वैंद्यक की सुगम दवामों से वच्चों के रोगों को दूर करने लोर उनको सोटा! ताजा बनाने वाले सैंकड़ों लनुभुत योग । १७६ पृष्ठ दे. ५० रू० 1 आचइयक सचना--इन पुस्तकों को मंगवा कर, २०-२४ दिन पढ़ें । यदि कोई भी पुस्तक पसन्द न छाये तो पुस्तक चापिस भेजकर सूल्य वापिस मंगवा ले । डाकख्च पुथक छ्ोगा चोट--विस्तृत जानकारी के लिये २० पसा के डाक टिकट भेजकर “चिकित्सक” का नमूना सुफ्त सगवायें । चेडिकल हाउस, ३६५६ (पोस्ट बबस १२१४५) कुतबरोड, देहली न पननननननाणाणाणणताय्यााणााणणााणाणाणषणाणणाणा्णणणाणाणणणाणणांल्‍ज-_- सारतीय छसत्वारी. जड़ी '. लूटियां यह बूटियां वो चह्दी हैं जो सर्वत्र सूगमता से मिल जाती हैं, किन्तु इनमें वह्॒'चमत्कारी गुण, पद्धति तथा सारे सेकडों अनुभव भव तक किसी निषण्दु बादि पुस्तक में हीं छपे जो “डडी दूटी विज्ञान” पुस्तक में अद्भुत गुणों से परिचय कराया गया है। इन बूटियों द्वारा स्त्री, पुरुषों में गुप्त रोग एवं बच्चों के कितने ही. असाध्य भौर कठिन समझकर छोड दिये जाने वाले रोगों का उपचार करके आप डाकटरों फो भी प्रभावित कर सकते हूँ । इस दुभूत ग्रन्थ द्वारा आप घन गौर यश कमा सकते हैं 1 पुस्तक में गुप्त योग गुप्त रहस्य हृदम खोलकर अंकित कर दिये हैं । यदि पुस्तक पसन्द न कावे तो एक सप्ताए के अन्दर वापिस कर सकते हैं । मुल्य ७)डाकब्यय पैकिंग २) पता-रसांयन जिज्ञान कार्यालय पो, संगरिया (नीकानेर) राज० +पमनननमसणममगलटरिसिणए हट न छुँ कम्टयस प्य्य ध्' एच छ थे घ्गति में एक और सर शुद्ध, सुन्दर एवं कलात्मक मोटोमेटिक सशीनों द्वारा छपाई एवं काड बोड वकक्‍यों के लिए पिछले ४० बर्पो से चिर परिचित-- भग़वाल प्रेस सुर! में बब घोटोमेंटिक अँफसेट मशीन लगजाने के कारण सब प्रकार के कलेण्डर, लेबिल एवं कार्ड बोड बवस पहिले से भी मगधिक कलात्मक रूप में छप सकेंगे 1 कृपया सेवा का अवसर प्रदाव करें । ऑफसेट प्रेस-डेस्बीयरपाक सथुरा-फोन सं-६१४ कार्यालय--अय्दाल भवन सथुरा-फोन सं ० १७७८० मयााययरन्यया्यन्थसमेसटमन्पसथसरसररमस्थररसससररवमटवसससविसलपममिटनसलर्यघरययरययरनलकनक-रससललटेटनलसवर दे सलदेयलटटिफिलल कल .ाारलललनलनिशशकसगनर




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now