भजनों की भेंट | Bhajano Ki Bhent

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : भजनों की भेंट - Bhajano Ki Bhent

लेखकों के बारे में अधिक जानकारी :

मुनि धनराज - Muni Dhanraj

No Information available about मुनि धनराज - Muni Dhanraj

Add Infomation AboutMuni Dhanraj

रामावतार - Ramavatar

No Information available about रामावतार - Ramavatar

Add Infomation AboutRamavatar

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
8६ ६७ ५७९६ ८७ ६१ ६.१ ६२ ६.£ | ६६ 8 € ६७ ६८ १०२ १०२ १०६ १०६ ( क ) घ्या लिताबै घड्या चितावै याभी या भी है. पडया है पड्यो है पड पोंतां पडपोता पूरा पूरो इन्द्रया इन्द्रयाँ टालंने टालनें जो म्हांसु कोई हुओ अविनय जो म्हांसू कोई अबिनय _ हुओ गुरुजी ये गुरुजी पे हिरयां में हिरदा में उड़ारथां उड़ास्यां मीली मीली खाय खाये जिवेणी त्रिवेणी समता समता में गति गीत जाया पाया




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now