पूर्व - आधुनिक राजस्थान | Purv - Adhunik Rajsthan

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : पूर्व - आधुनिक राजस्थान - Purv - Adhunik Rajsthan

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about रघुवीर सिंह - Raghuveer Singh

Add Infomation AboutRaghuveer Singh

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
( १६ ) भारत के लम्बं इतिहास मं राजस्थान को जनता का इतिवृत्त समाज-शास्त्रियों ओर হুবিহাপশজাঙ্গী कें लिए जाँचने और पता लगाने का विषय हैं । भारत की मानवता की व्याकुल स्थिति और उसकी दबी संघी और अभाव में आध्यात्मिक-सी दिखती उमंगों का एक विकराल पलायन कहीं देखना हो तो राजस्थान की जनता के इतिवृत को देखिए | डॉ० रघुबीरसिहर्जी ने इस ओर हम सबको एक दृष्टि दी हे । राजस्थान विश्वविद्यापीठ साहित्य संस्थान के ओमभा-आसन से হল भाषणों को देकर और उनको इस प्रकार पुस्तकाकार प्रकाशित करवा कर डॉ० रघुबीरसिहजी ने नं केवल विद्यापीठ की ही, किन्तु भारतीय समाज की भी सेवा की हुँ । इसलिए इनको हम सबके अभिनन्दन । राजस्थान विरवविद्यापौठ पीट-स्थविर अधिकरण जनादनराय नागर उदयपुर (मेवाड़) पीठ-स्यविर बसंत पंचमी, २००७ वि० '




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now