अपराध - चिकित्सा | Aparadh Chikitsa

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
शेयर जरूर करें
Aparadh Chikitsa by भगवानदास केला - Bhagwandas Kela

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

भगवानदास केला - Bhagwandas Kela के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है | जानकारी जोड़ें |

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(देखने के लिए क्लिक करें | click to expand)
( घ )है । मुभे अपने साहित्य काये में ऐसे सहयोगियों की सहायता प्राय: मिलती रही है, और उन्हें उसके लिए धन्यवाद देकर उनसे उऋण होने का प्रयत्न करने कौ पेता, उनका ऋणी बन रहने में ही मुझे आनन्द है ।भ र ४यह पुस्तक लिखी जाने के तीन वषे बाद पाठकों के सामने आ रही है; इतना अधिक विलम्ब होने के सम्बन्ध में, कुछ शब्द कहने ह । बात यह थो, किम इसे प्रकाशित करने मे भस्मर्थ था, अत: समय समय पर अन्य प्रकाशकों से इसके सम्बन्ध में वातांलाप या पत्र-्यवहार किया गया। किसी छिसो प्रकाशक ने निस्संकोच सीधी-साधो बात कह दी कि पुस्तक अच्छी है, अपने विषय की नयी है, पर ऐसी पुस्तक विशेष बिकती नहीं, ओर जब तक कुछ आय की आशा न हो, इसका छुपाना उन्हें अभीष्ट नहीं । बात प्रिय थी, पर उनकी स्पष्टवादिताने मुक व्यथ प्रतीक्षा के संकट से तो बचा दिया। दो एक प्रकाशकों ने कहा कि पुस्तक ऐसे ढंग से लिखी जाय, ओर इसमें ऐसी बातें रहें तो अच्छा हो। में समक गया कि ये इसका प्रकाशन 'सभ्यता-पूृवकः अस्वीकार कर रहे है । कुछ प्रकाशकों ने कडा कि हम पुस्तक छाप सकते हें, परन्तु अभो हमारे हाथ में दूसरा काम है। मद्दोनों ही नहीं, वर्ष बीत गए, उनको दूसरे काम से अब भी अवकाश नहीं हुआ । एक सज्जन ने लिखा था कि ऐसी पुस्तक लेखक ओर प्रकाशक दोनों के लिए गौरव को वस्तु होगी ।




User Reviews

अभी इस पुस्तक का कोई भी Review उपलब्ध नहीं है | कृपया अपना Review दें |

अपना Review देने के लिए लॉग इन करें |
आप फेसबुक, गूगल प्लस अथवा ट्विटर के साथ लॉग इन कर सकते हैं | लॉग इन करने के लिए निम्न में से किसी भी आइकॉन पर क्लिक करें :