हमारा राजस्थान | Hamara Rajsthan

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : हमारा राजस्थान - Hamara Rajsthan

एक विचार :

एक विचार :

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about कैलाश बहादुर सक्सेना - Kailash Bahadur Saxena

Add Infomation AboutKailash Bahadur Saxena

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
( ७) (२) अजमेर विभाग--इस विभाग में पहले की अलवर, जयपुर, भरतपुर ब टोक रियासते सम्मिलित हैं | इस विभाग में ८ जिले हैँ जिनके नाम इस प्रकार ई--त्रजसेर, श्रलवर, भरतपुर, जयपुर, मु भरू, सवाई माधोपुर, सीकर और टोंक । इस নিলাম জা পক্ষ लगभग २७२७८ वर्ग मील है। क्षेत्रफल की दृष्टि से राजस्थान में दूसरा बड़ा विभाग है । (३) बीकानेर विभाग--यह विभाग पहले की बीकानेर रियासत है। इसमें तीन जिल्ले हैँ---ब्रीकानेर, चूरू और गंगानगर । इस विभाग का क्षेत्रफल २३,६४३ वर्गमील है, अतः क्षेत्रफल की दृष्टि से इस विभाग का तीखरा स्थान है । (४) उदयपुर विभाग- यह विभाग पहले की मेवाड़, डू गरपुर, प्रताप- गढ़, कुशलगढ़, बारुवाड़ा और शाहपुरा रियासतें मिलावर बनाया गया है | इस विभाग में ५ जिले हे---डउद्यपुर, चित्तौड़गढ, भीलवाड़ा, डू गरपुर और बास- वाड़ा । इस विभाग का क्षेत्रफल १८,२७६ वर्गमील है ओर क्षेत्रफल की दृष्टि से इसका चौथा स्थान है । (५) कोटा विभाग--इस विभाग में कोटा, बूदी और मरालावाड़ रियारते सम्मिलित की गई ह । इस भाग में तीन जित्ते है जिनके नाम भी यही हैं, अर्थात्‌ कोण, बूदी और फालावाह । इस विभाग का क्षेत्रफल ६३४४ वर्ग- নীল ই | अतः क्षेत्रफल की दृष्टि से यह विभाग सबसे छोटा है और इसका पाचवा स्थान है |




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now