भारत में व्यापार और यातायात | Trade & Transport in India

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
शेयर जरूर करें
Trade & Transport in India by सी. पी. श्रीवास्तव - C. P. Srivastav
लेखक :
पुस्तक का साइज़ :
47 MB
कुल पृष्ठ :
330
श्रेणी :

यदि इस पुस्तक की जानकारी में कोई त्रुटी है या फिर आपको इस पुस्तक से सम्बंधित कोई भी सुझाव अथवा शिकायत है तो उसे यहाँ दर्ज कर सकते हैं |

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

सी. पी. श्रीवास्तव - C. P. Srivastav के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है | जानकारी जोड़ें |

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(देखने के लिए क्लिक करें | click to expand)
६ भारत में ध्यापार झौर यावाय,तसूती वस्त्र, धाते, मसाले, मशीने , पशुश्रौ का मोजन, सूत, शादि प्रिता किया जाता है । मद्रास वन्दरगाह क) व्वापार्‌ इम प्रकार है :-वषे आयात निर्यात ओ (না में) १६३६-४० ८९.५.६५ १ ३६ १,६५५ १,८०.६०६ ४६४२-४६ २२७; १८८. £ 355১8, % ६५.७५६. १६४४-४६. ११८३ ३०४०६ २ {६१६७४ १०७२६१६ ०३ १६४७-४८ १,३८२.७६५ २७८१२३६६ १३६६ १११६४ १६०८-६ १,६६४,८प् १ २४० ,०१ १ १६ ०४१८६ २९कोचीन के वन्दरणाड दवारा दक्तणी भारत तथा पश्चिमी ससुद्रतटीय प्रान्तों का व्यापार होता है। यहां के मुख्य निर्यात नारियल की चटठाइया, रस्से, कोकोजैम, रबर; कहवा, चाय, सोंठ, मसाले आदि हैं तथा आयात श्रनाज, खनिज तेल सूती वस्त्र, मशीने' और अन्य बस्तुए' हैं।यहां के व्यापार হী চ্যাট হল प्रकार है :--वर्ष आय।/त নিাঁন जोड़ १६४४-४५ २२६१११८ ५७११२५५ ९६०१६५७५ ९१६.४५--४६ २८०१५६४ १११,६६१ ४६ ९,११३ १६४६-४७. ६७०,३१२ २६६,०२६ ५,९६६, ३ पप्य १६४७-४८: ১০১৪, ३१६,३ १४ £7$5৩7২$ १६४८-४६ ६६१.,३५३ २५.०५.६३२ १,२४२, ९८7५,अन्तप्रीन्तीय व्यापार (10007-1%०0णंगरणंछ) 17४१०)यह व्यापार एक प्रान्त और दूसरे प्रान्त कर बीच मभ॑ दधता है | এষা তুম अन्तप्रन्तीय व्यापार की विवेचना करेगे।१. ग्रासाम राज्य का व्यापार मुख्यत्तक पश्चिमी बंगाल से दी होता हैं। यहां के मुख्य नियात कोयला, जुड़, चाय, चावल, भिद्टी को तेल, मोमबरतियां, आ्रादि तथा आयात सूती वस्त्र, अनाज, दाले, शस्कर, नमझ और লাশ ई) चकर आसाम में चाय के बाग बहुत बढ़े क्षेत्र में फेले हैं तथा यहां आवागमन के मार्गों की कठिनाइयां ই अ्रस्तु यहां का व्यापार बढ़े २ नगरों में करेद्रितन होकर छोटे २ केन्द्रों द्वारा ही होता है ।२. पश्चिमी बंगाल का व्यापार उत्तर प्रदेश, आसाम, मध्य प्रदेश तथा “बिहार उड़ीसा से होता है | उत्तर प्रदेश से यहाँ शक्कर, चअमड़ा, गेहूँ, तिलदन, दाले' और सूती वस्त्र प्राप्त कर बदले में कोपला, चावल, जूड़ का तैयार गाल;




User Reviews

अभी इस पुस्तक का कोई भी Review उपलब्ध नहीं है | कृपया अपना Review दें |

अपना Review देने के लिए लॉग इन करें |
आप फेसबुक, गूगल प्लस अथवा ट्विटर के साथ लॉग इन कर सकते हैं | लॉग इन करने के लिए निम्न में से किसी भी आइकॉन पर क्लिक करें :