भगवान महावीर और महात्मा बुद्ध | Bhagavan Mahavir Aur Mahatma Buddh

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : भगवान महावीर और महात्मा बुद्ध - Bhagavan Mahavir Aur Mahatma Buddh

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about कामता प्रसाद जैन - Kamta Prasad Jain

Add Infomation AboutKamta Prasad Jain

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
विषय-सूची । परिच्छेद.. विषय ` अ० भूमिका ,,, ०० ब० अंप्रेजी प्रस्तावना ९, भगवान महावीर ओर मर बुद्धे समयका भारत =. = „^+ राजनैतिक परिस्थिति क नह: रद सामाजिक परिस्थिति, धाभिक परिस्थिति ...... ... पुणेकाश्यप, मक्खलिगोश्ाठ ,,. ५46 ˆ अह सजय वैरस्य पुत्र ५ „= ८ ^^ अनितकेशकम्बङि, पकुड़कात्यायन | २. भगवान महावीर और म* वुद्धका प्रारम्भिक जाचने ,.. = ,. ... + शृहत्याग ओर साधुजोवन न + मग्वुद्ध जैन साधु रदे थे, भ०मदहावीर्‌ दिगम्बर मुनि थे वौद्ध शाम दि० जेनमुभियोंकी क्रियाय इ ४» शानप्रासति ओर धर्मधचार , .. म० बुद्धका ज्ञान, भग मदवीर खथैज्ञये ,.. ., म० बुद्धका धरमैप्रचार, म० महाचीरका विद्‌ा६ भ० महावीरका धमे विदेशोभं, मोक्षछाम ,,, ५. पारस्परिक कोरनिर्णय ........ ... + भगवान महाबीर यर म° वबुद्धका धव ... ७, उपकलहार कः श ८» परिशिष्ट-वोद्धसाहित्यमें जैन उदलेख ॐ मज्सिमनिकायमें भ० मद्दावीरकी सवैज्ञताके उछेख ,,, अगुक्तशनिकायमे श्रावको प्रोषधादिनेत्त ,.„ „=, 'दीधनिकायमे जन उष्टेख ह ककः ण „+ भ० महावीरङा निर्वाण ०८ =, -सेयुक्तनिकायतमे पंयाणुव्रत व भण्की खवज्ञताः .. ,«« सुमगखविङासिनीमं जीव।दि जनत्ततव॒ = „० = पु १०-१६ १७१९ २१ २५-२६ २२६ ४४ ४८५ ६१ ६८ ७२८८ वन ९६-९७ १०७ ११७ १८० १८८ ९१८९ २०६४३ २१९ २.१३ २९१५ २९७




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now