महावीर श्री चित्र शतक | Mahavir Sri Chitrashatak

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Mahavir Sri Chitrashatak  by श्री फूलचंद्र - Shri Fulchandra

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about श्री फूलचंद्र - Shri Fulchandra

Add Infomation AboutShri Fulchandra

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
प्रष्ठ निर्दशन (र) ---9 - १. तीषंद्धर वद्धंमान महावीर की जीवन रेखाएं (सकलित) -२. निवेदन के पृष्ठ (श्री प कमलकुमार शास्त्री) ३ ग्रन्थ परसग (श्री नेमिचनदर जी एम० ए) ४, विनयाञ्जलियां (दिविध महानुभावो की) ४ महावीर मागलिक जन्म-चक् (श्री व्रिलोकीनाथ जी जैन) ६ जन्म लग्न का फलितां (^ कर मी ७. विश्व का आधार (आचार्य श्री तुलसी जी) ८ अहावीराष्टक स्तोत्रम्‌ (प वशीधरजी व्या०) ९ दीप-अच॑ना (कविवर श्री द्यानतराय जी) २० महावीर-वन्दना (प भ्रवर आशाधर सूरी) ११ मानवताके उद्धारक भ० महावीर (प हीरालाल जी कौशल) १२ विनयाज्जलिया (विविध महानुभावो की) १३. ज्योतिर्मय भ० महावीर (श्री रनेश सोनी मधुकर) १४ वैशाली (श्री रामधारी सिह 'दिनकर' ) १५ वीर-वैभव (श्री लक्ष्मीनारायण “उपेन्द्र ) १६ समन्वय (श्री फूलचन्द्र जी 'पुष्पेन्दु' ) 4७ उद्बोधन (श्री डा० राजकुमार जी जैन) १८ वे महान थे वद्ध॑मान थे (श्री शीलचन्द्र जी 'शील') १६९. दशंन-बोध {श्री मदनः श्री वास्तव) २०४. मेरा नमन स्वीकार ले (श्री नारायण परदेशी) २१ नमन २२. भ० महावीरके भक्तोके प्रति (श्री दुर्गादीन “बागी” ) १२ ४६ १४७ १७ § ६० ६१ ६२ ९५ ८9 ८१ ४८६ ६१ ६२ ६३ ६४ ६५




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now