राम वर्षा | Ram Varsha

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Ram Varsha  by आर. ऍम। नारायण - r m narayan

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about आर. ऍम। नारायण - r m narayan

Add Infomation About. r m narayan

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
जाए विपय सूची: सम्पर विषय व्रर्‌ भजन - पृष्ठ সস ज ৯ এ এ ८ धन जन योन तग न जयि प्यारे ! यह संत पीछे লোরও৫ ९ दम॒ तन चटना प्यरे ! ऊ टेदरा ज॑गट मंमग्ना ५९ ३० हाये क्यों ऐं दिल ! तुझे दुन्या-ए-दु मे प्यार है ৫০ %% मान मन क्यों आममान करे ८१ < १३ नहीं मो सार से टरते बुही उप्त गुछ को पाते है হি ०३ दिल गाफिल न हो यक दम पहदुन्पा छोड जाना है. <* ४ चपद मन ! मान कही मेरी, न कर दारि निन्तन में टेर ८४ १५ इष माया ने अदो कैमा भुख्यया मुझ्न को ८५. १६ दुन्या पे; नगर्ग में ह यह दिल मटक रहा ८५ १७ चच मन নিহাহিন নহলন ই ८७२ ३८ मजन ब्रिन गिस्था जन्म गर्यों ट ३९ प्ंगे मन रे राम मनन कर ठीने ৫৫ २० मेंस দন ই লন ৪ হল मुणरी ` < २१ सुनो नररे} एम ममन এ কালি 1 ८९.




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now