सरल हिंदी व्याकरण | Saral Hindi Vyakaran

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
Book Image : सरल हिंदी व्याकरण  - Saral Hindi Vyakaran

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about पं. श्री केदारनाथ शर्मा शास्त्री - Pt. Shri Kedarnath Sharma Shastri

Add Infomation About. Pt. Shri Kedarnath Sharma Shastri

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
श थी। के राष्ट्रभाषा सरठ दिल्‍्दी व्याकरण पाठ-१ परिभाषा भापा--अपने मनोगष्ठ विचारोंको मानव--समाज दो प्रकारसे प्रकट करता दे--दोलकर था छिसकर । इन दोनोंकी साधिका वाणी है । उसी धाणीका नाम भापा हे. । घाषी --अत बाणी भाषा उसे कहते हैं जिसफे द्वाय- चोछकर था ठिखकर-सानव-समाज अपने मनोगत भावोंफो परस्पर एक दूसरेफो समझा-युझा सके ।




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now