प्रशमरति भाग - 2 | Prashmrati Bhaag - 2

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
Book Image : प्रशमरति भाग - 2 - Prashmrati Bhaag - 2

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about मुनिश्री भद्रगुप्तविजयजी - Munishree Bhadrguptvijayji

Add Infomation AboutMunishree Bhadrguptvijayji

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
~ न्ट ~ = दा ग्रशमरलि परिशिष्ट অনার यत्तिधम নুহ गम-परयाय शब्द-अथ 9৮ बुद्धि लेश्या महाग्रता वी भावनं यामनि चरण-समप्तत्ति बरण-मप्तति पयाप्तियाँ परावतमान प्ररेति ঘন্মাঘম मब्य-अभव्य निग्रध-स्तातना দনলপান समुद्घात যান जाहार-्यवाहार सभा




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now