केवल ज्ञान प्रश्न चूड़ामणि | Kevala Gyana Prasna Cudamani

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : केवल ज्ञान प्रश्न चूड़ामणि - Kevala Gyana Prasna Cudamani

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about डॉ. नेमिचन्द्र शास्त्री - Dr. Nemichandra Shastri

Add Infomation About. Dr. Nemichandra Shastri

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
स्व० पुण्यश्लोका माता मूर्तिदेवीकी पवित्र स्म॒ृतिमें तत्सुपृत्र साह शान्तिग्रसादजी-द्वारा संस्थापित भारतीय ज्ञानपीठ मूर्तिदेवी जैन ग्रन्थमाला इस अन्थमालछाके अन्तर्गत प्राकृत, सस्क्ृत, जपञ्रश, हिन्दी, कन्नड, तमिक आदि प्राचीन सापाक्षोर्से ठउपछब्ध आगमिक, दाशनिक, पौराणिक, साहित्यिक, ऐतिहासिक आदि विविध-विषयक जन-साहित्यका अनुसन्धानपूर्ण सम्पादन तथा उसका भूछ और यथासम्भव अब्ुवाद आदिके साथ प्रकाशन हो रद्दा है । जैन मण्डारोंको सूचियाँ, शिलालेख-संग्रहद, विशिष्ट विद्वानोके अध्ययन- अन्थ और छोकह्ठितकारी जैन-साहित्य अन्थ भी इसी अन्थमाछाममे प्रकाशित हो रहे हैं । ७ ग्रन्थमाला सम्पाद्क डॉ० हीरालाल जैन, एम० ए०, डो० लिट्‌० डॉ० आए० ने० उपाध्ये, एम० ए०, डी० लिए० प्रकाशक भारतीय ज्ञानपीठ प्रधान कार्याठय * ९ अछोीपुर पाक प्छेस, कछकत्ता-२७ प्रकाशन कार्यालय : दुर्गाकृण्ड माग, वाराणसी-७५ विक्रय कार्याकय : ३६२०1२१ नेताजी सुभाष मार्ग, दिल्‍्ली--६ सुद्रक . सन्‍्मतिं मुद्रणालूय, दुर्गाकुण्ड सार्ग, वाराणसी-५ छ ल्‍ स्थापना - फा्युन कृष्ण ९, वीर नि० २४७७० ७ विक्रम सं० २००० ७ १८ फरवरी सन्‌ १९४४ सर्वाधिकार छुरतक्षित




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now