संगीत माधुरी | Sangeet Madhuri

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
शेयर जरूर करें
Sangeet Madhuri by सुरेश मुनि - Suresh Muni

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

सुरेश मुनि - Suresh Muni के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है | जानकारी जोड़ें |

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(देखने के लिए क्लिक करें | click to expand)
नमर मुनि हर घम महामहिम लात्मा ने समाज वी सर्भूमि की ओर उन्मुख किया उसने समाज के मन को नया जीवन और उसके साहित्य को नया स्वर दिया है । वें चर्तमान युग में समूचे स्यानकवासी समाज की भाँख हैं । और यदि सुझे कहने की छूट दी जाय तो मैं उन्दे प्रभिशनस्तम्भ कहने में भी नहीं सफुचाऊ गा | समुवा स्थानकवासी जैन-समाज आज जिनकी श्रोर प्रकाश भौर प्रेरणा के लिए लादा-भरी दृष्टि से देख रहा है उस अमर ज्योति-रत्त के चरणों में घतदा -सहख्रश वन्दन 11 भविष्य में समाज में निर्माणात्मक स्थिति युग-परिवतन एवं दूतन सा हिद्य- फे आप ही एक धत-शत भादाओ के मेरुमणि हैं ।




User Reviews

अभी इस पुस्तक का कोई भी Review उपलब्ध नहीं है | कृपया अपना Review दें |

अपना Review देने के लिए लॉग इन करें |
आप फेसबुक, गूगल प्लस अथवा ट्विटर के साथ लॉग इन कर सकते हैं | लॉग इन करने के लिए निम्न में से किसी भी आइकॉन पर क्लिक करें :