षोडशी | shodshi

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
shodshi  by नाथूराम प्रेमी - Nathuram Premi

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about नाथूराम प्रेमी - Nathuram Premi

Add Infomation AboutNathuram Premi

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
पु थ ब न चध्श्य श्रथत सके दा शाम । ( पास आमेपर ) धुखिसने मकान पेर सिंधी है, गुजिह्ट्रेट साइन काटकर भीतर घुस आये हैं, था ही पहुंचे समको । (पोड़शी चौक उठपी है) जिसेके मजिस्ट्रेट दसपर निकतों हैं, कोस-भर दूर कैम्प ढासा। है। उुन्दवरे पिताने _ सुत्हीोको उनके पास जाकर सन हार्ट कद है। सिर्फ इतेनेद्ीसे इतना +्ने -: होता, किन्छु साइन खुद भी मेरे ऊपर बहुत खफा हैं 1उन्दोंने पिछण सासेदो :, बार जातामें फेसामिकी कोशिश की थी, पर मैं फैंत न सका, शा एकपरसी ये हाथ पकड़ रिया है । ( गर। हँस देत। है । ) एककोडी . ( चेदरा फक पढ़ गया है ) हुअूर, अबकी वार तो हम सोगोंकी सी खैर नहीं । मम जीवावन्द दो सकता है। ( पोढ़शीके श्रति ) बदेणा लेना चाहो तो... यह अच्छा मौका है । सुझे जे भी समिनवा सकती हो । घोड़शी इसर्मे जेल क्यों होगी १ जीवानन्द काचूंत है । इसके सिना के सदिवके पंजेमें फैंसा हूँ । नाइुड- बभानकी मेसमे रहते हुए इयीके चक्कर पढ़कर मैं एक पार पन्यह बीस दिनके दिए दवायातमें भी रह जुका दूँ । किची भी तरह जमानत चहीं सी, जसी- ते तल देता भी कौन १ हि ही पोढ़शी . ( उत्छ+ करठ्से ) छाप कया कभी नडुढ-वनानके मेसमें रद [: जीवानन्द हाँ ! उस समय एक असयनकारुडका चोयक बन था, नासायक अर्थॉनि घोषनें कियदी तरह पिष्ड ही न छोड़ा, पुरिसिके खुषुर्द कर पिया । खेर, पद बहुत पड़ा किस्सा है । साइब भुझे भूठा नहीं है, खूब बहुचाचत। है । आज सी भाग सकता था, सगर ददके सारे खाट पकड़ ली हे, हिलनेकी भी कूचत नहीं । घोढशी . (करोनस कण्ठसे ) कया आप ददें कथ नहीं हो ९६ है ? जीवचिन्द नहीं.। इसके सिवाय यह दद अन्छा होसे बोला नहीं है । घो़शी (कुछ देर जुप रदकर ) झुक कया करना होगा १ जीवाचन्द -सिफे कदना होगा, उन अपनी इन्छासे आई हो और अपनी इच्ठेसि यहाँ हो । इसके नद्ठे छु् मैं सारी देवोतर सम्पत्ति छोड़ दूँगा, इजाए रुपये नगद दूँगा और नयचारासेके रुफयोंकी तो कोई बात ही नहीं । हू एककौदी ऊछ कहना लाइत। है पर पोढ़शीके मुदकी ओर देखकर रक जाता है। की जन




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now