यूरोप का इतिहास | Yurop Ka Itihas

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
शेयर जरूर करें
Yurop Ka Itihas  by रामकिशोर शर्मा - Ramkishor Sharma
लेखक :
पुस्तक का साइज़ :
13 MB
कुल पृष्ठ :
235
श्रेणी :

यदि इस पुस्तक की जानकारी में कोई त्रुटी है या फिर आपको इस पुस्तक से सम्बंधित कोई भी सुझाव अथवा शिकायत है तो उसे यहाँ दर्ज कर सकते हैं |

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

रामकिशोर शर्मा - Ramkishor Sharma के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है | जानकारी जोड़ें |

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(देखने के लिए क्लिक करें | click to expand)
१९ नवीन कालइस समय इटली के लोग एकता के सत्र में नहीं बँधे थे, परन्तु विद्या तथा कलाकोशल में वे सब युरोप से श्रेष्ठ थे। मध्य- काल में इटलौ, विद्या का केन्द्र था। इसका प्रधान कारण यह भा कि इसाइई-धमम का केन्द्र रोम नगर इटली में ही था। इसी धार्मिक केन्द्र से आरम्भ होकर रिनासेंस समस्त युरोप में फेला तथा उसके उदय से मध्यकाल का समय इस भाँति गल गया जैस सूयं के उदय से वक्र |विशेषतया गिरजों में लेटिन तथा ग्रीक भाषाएँ जीवित थीं । अब इटलीवालों को उन्हें सीखने का शौक फिर पेदा हुआ । पीटाक, दान्ते आदि के प्रयत्नों ओर ग्रन्थों ने इन विद्याओं के लिये रुचि उत्पन्न कर दी, मृत-भाषाओं को पुनर्जीवित करने का प्रयन्न होने लगा । इसी समय कुस्तुन्तुनिया से भागे हुए विद्वानों ने इटली मं आकर विद्या की रुचि मे ओर भी प्रोत्साहन दिया । ये बातें बड़े महत्त्व की हुई । ज्ञानवृद्धि का सव से मह^्वपूणं फल धमसंशोधन हुआ । अव तक लोग धम की बुराइयों में हस्तक्षेप करने से बहुत डरते थे, परन्तु जब विस्तृत ज्ञान से उन्हें धर्म के असली रूप का पता लगा तब वे निर्भय होकर धार्मिक बुराइयों पर समालोचना तथा आक्तेप करने लगे ।आविषध्कार--इसी काल में छापे की कल का आविष्कार हुआ, जिससे पुस्तकें अत्याधिक सस्ती हो गई तथा समम्त युरोप में नवीन ज्ञान फेलाने में सहायक हुई | अब तक विद्या पादरियों के अधिकार मे थी, परन्तु अब सवेसाधारण उसे सीख कर लाभ उठाने लगे ।वारूद्‌ का आविष्कार भी इसी समय हुआ । अब तक




User Reviews

अभी इस पुस्तक का कोई भी Review उपलब्ध नहीं है | कृपया अपना Review दें |

अपना Review देने के लिए लॉग इन करें |
आप फेसबुक, गूगल प्लस अथवा ट्विटर के साथ लॉग इन कर सकते हैं | लॉग इन करने के लिए निम्न में से किसी भी आइकॉन पर क्लिक करें :