भारत की खोज | Bharat Ki Khoj

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
शेयर जरूर करें
Bharat Ki Khoj by जवाहरलाल नेहरु - Jawaharlal Nehru

एक विचार :

एक विचार :

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

पंडित जवाहरलाल नेहरू -Pt. Javaharlal Neharu के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है | जानकारी जोड़ें |

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(देखने के लिए क्लिक करें | click to expand)
धर भारत की खोज लागू होती है जो हमारे रक्त मांस और अस्थियों में समायी है। इसी विशेषता से हमारा वर्तमान रूप बना है और हमारा भावी रूप बनेगा । इसी व्रिशिष्ट विरासत का विचार और वर्तमान पर इसे लागू करने की बात एक लंबे अरसे से मेरे मन में जगह बनाए है और मैं इसी के बारे में लिखना चाहता हूँ। विषय की कठिनाई और जटिलता मुझे भयभीत करती है। मुझे ल्लगता है कि मैं सतही तौर पर इसका स्पर्श ही कर सकता हूँ।




User Reviews

अभी इस पुस्तक का कोई भी Review उपलब्ध नहीं है | कृपया अपना Review दें |

अपना Review देने के लिए लॉग इन करें |
आप फेसबुक, गूगल प्लस अथवा ट्विटर के साथ लॉग इन कर सकते हैं | लॉग इन करने के लिए निम्न में से किसी भी आइकॉन पर क्लिक करें :