तोलना और संतुलन करना | TOLNA OR SANTULAN KARNA

Book Image : तोलना और संतुलन करना - TOLNA OR SANTULAN KARNA

लेखकों के बारे में अधिक जानकारी :

अशोक गुप्ता - ASHOK GUPTA

No Information available about अशोक गुप्ता - ASHOK GUPTA

Add Infomation AboutASHOK GUPTA

जेन जोनस श्रीवास्तव - JANE JONES SRIVASTAV

No Information available about जेन जोनस श्रीवास्तव - JANE JONES SRIVASTAV

Add Infomation AboutJANE JONES SRIVASTAV

पुस्तक समूह - Pustak Samuh

No Information available about पुस्तक समूह - Pustak Samuh

Add Infomation AboutPustak Samuh

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
डोर को बीच से मोड़ कर, छड़ी के केन्द्र का पता लगाओ. और उस पर एक हुक फिट करो. 1 ७# >> «मकर ा 3 +3---प-ल-+++----ल--3+++>अन-+- 5 «न म+०>+. छड़ी के दोनों सिरों पर एक-एक हुक लगाओ. 1 मिल भवन कर कब; डोर के 4, एक-बराबर लम्बाई के टुकड़े लो. हर ट्कड़ा इतना लम्बा हो कि वह प्लेट के ऊपर कम-से-कम दो बार लपेटा जा सके.




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now