बैंकिंग | Banking

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : बैंकिंग - Banking

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about शंकर सहाय सक्सेना - Shankar Sahay Saxena

Add Infomation AboutShankar Sahay Saxena

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
(६ ) चेचान का रूप :--रकम पाने वाले ( ए8प्र८८ ) को चेक पर उसी रह श्रपने हस्ताक्षर करना चाहिये जिस तरह चेक काटने वाले ने उसका नाम लिखा हो | यदि लिखने वाले ने उसका नाम गलत लिखा हो तो भी उसे श्रपने हस्ताक्षर उसी तरद से करना चाहिए जैसा कि उसने लिखा हो । ऐसी दशा में यह दधिक श्रच्छा होगा कि हस्ताक्षर करने वाला पहले तो जैसा उसका नाम लिखा दो वैसे ही दस्ताछर करे श्रौर उसके नीचे जिस अकार बह शस्ताक्षर करता है बैंसे हस्ताक्कार कर दे । यदि चेक पर बेचान (थ000156- घादाध: ) ठीक नहीं होगा तो जिस बैंक पर वह काटा गया है उसका मुगत्तान करने से इन्कार कर देगा | मीचे ठीक वेचान के कुछ उदाहरण दिये जाते हैं :-- रकम पाने वाला गलत वेचान ठीक बेचान ( रिवफुडट ) (फरड्डुपोका' फिद- | (किक छिप्रतेशाध0- तणइहाा दा) पादणणि व्यक्ति 19त1४160815 ्‌ महात्मा गाँधी महास्मा गांधी मोहन दास कर्मचंद गाँधी सेठ चिरंजी लाल सेठ चिरंजी लाल... | चिरंजी लाल डाक्टर गिरवर सद्दाय | डाक्टर गिरवर सद्दाय | गिरवर सहाय सक्सेना डी. सक्सेना सक्सेना लिड, देशररन बा ० राजेन्द्रप्रसाद| देशरत्न राजेन्द्र महाद | राजेन्द्र प्रसाद खियां- भीमती दर्दूर (055. | सोहनी दस्तूर श्री दीरालाल' आऔमती दस्ततर उ0कबण्य ) दस्तूर की पत्नी (01010- ( दी, 85007) पं डा कलडि ८ कं. 1285प्ा हे कुमारी चोल ( 9185 | कुमारी बोस (155 | कमला त्रोस ( उिधपणाध ऋठ्ड्6 3०56) +. | छिए56 || कुमारी. दिनेशनन्दनी दर दिनेशनन्दनी ड!ए 4 न्वोरडिया ( श्रव (विवाहित समय का न ईिवाहित हो गई ) दिनेशनन्दनी चोरडिया . हद ऐपेंड्ए + छिाणांद ( पोटट- एण्फाच




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now