हिन्दी भाषा शिक्षण | Hindi Bhasha Shikchhan

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : हिन्दी भाषा शिक्षण - Hindi Bhasha Shikchhan

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

Author Image Avatar

भाई योगेंद्र जीत बहुत ही विद्वान शिक्षाविद थे। उन्होंने किताबें लिखी हो सकती हैं। आगरा से अपने करियर की शुरुआत की और अंतिम रूप से प्रिंसिपल जियालाल इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन (B.Ed) रामगज अजमेर (राजस्थान) से सेवानिवृत्त हुए। उनका जन्म 1921 में यवतमाल महाराष्ट्र में हुआ था और पुणे महाराष्ट्र में 91 वर्ष की आयु में उनका निधन हो गया था। उन्होंने प्रसिद्ध विद्या भवन उदयपुर से एमएड किया और योग्यता में द्वितीय स्थान पर रहे।

Read More About Yogendra Jeet

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
६ काव्य साहित्य गद्य साहित्य 1 कथा साहित्य 9 नाठ्य साहित्य व प्रालोचना साहित्य एप ५ १७ पाठ को तैयारी १७६-+१८५ तैयारी क्‍यों की जाए ? वेयारी केसे की जाए १ हुरबाट का मनोविज्ञान 5 भ्रतुकूलता 11 सम्बन्ध हीनता 1 विरोध शिक्षा में प्रयोग सोपान गद्य के पाठ संकेत की रूप रेखा कविता के पाठ संकेत की रूप रेखा १८ पाठ संकेत का विधान १ ८६--२०६ के गदा पाठ--दोरपा तेनसिंहू खि व्याकरण पाठ--समास निबस्घ पाठ--ताजमदूल घ नाटक का पाठ---प्रन्तर की पुकार च कविता का पाठ--प्रोरछा नृपति की वीरता परिदिष्ट २०६४-०८ सहायक पुस्तकों की सूची गो?




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now