किन्नर देश में | Kinnar Desh Main

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
श्रेणी :
शेयर जरूर करें
Kinnar Desh Main by राहुल सांकृत्यायन - Rahul Sankrityayan

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

राहुल सांकृत्यायन - Rahul Sankrityayan के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है | जानकारी जोड़ें |

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(देखने के लिए क्लिक करें | click to expand)
डाझवगतलेमे प्रवन्ध पा । नादर लेलपर सात ग्डॉ चालोके लिये तो बह रथान गम है लाग एस दावे सर रद थे. ड श्र घन रसपर # मीस था सानों यहाँ प्राण सुखानेवाज्नी लू चल रही ₹। रामपुर १२ मॉल था. फ चचना छोडेपर था फोई नदी जप पी । ढापइरफे ्ौर गर्मी लग रही थी. किन्तु वेगले के फमरग दुवते रो जी छायाने अपना छपर फिया । कुर्पीपर बठ दी थे. कि दा कारडेबल सामये चाये | दूसरा समय रोता दो सेमाच नहीं नो श्ाश्य हाता । उन्होंने झाकर वाकायता ललापी दी चोर चाहा गादव रद लिये सजा ते सभी द्सियस सर्प निभालनेपेलिये मुख्य प्रवघाधियारी चीय एस्ज्क्यूठिय जेजा है विन्तु लोगोकों यह नाम लेना श्रासान नहीं हैं इपलिये वह उसे पुराने ही नाते पुकारते है । सेने दीवाने सादिवक चन्युचाद देते लिपाटियोदिलिये कोई सेवा न हॉलेपर स्ेद य्रकद प्र मे न पे 4 व | डे ही सं /उा.. न्तु लोगोकों फलकी तथा याद रानी ईद ज उन्का पा बनना हो नहीं तो उन्हें फलकों नदी सना फिक किन्दु दिलोरी शक्ति क रहती हु । हमारे पास रायसाहिवका दिया छुले सालका थ रमें एूछुनेरर सने छाड़॒लासेफे लिये कह दिया । इन समय यहीं हद्का साजन अधिक श्रठुकूल जान पड़ा वेंगलेमें शी लगी खिड़किगेके वाहर घनी जाली लगी देखकर कुछ अनकुस होता था दरार यद वात सारे तिव्वत-हिस्टरतान सड़कके। डाक वेंगलाम थी किन्तु इसका लाभ तद मालूम दुआ जव द्गले महीनों स कंडके कंड द्ाक्रसण करसे लगे । से दी सेव छील- चार स्वानन हीं लगा था कि ज्वालापुरद पडाजी झा पहेँचे व टमारी ग्रेताला नालामे कर रहे थ दौर उसी शत सशन घरसे । उन्हे भी दो सब देकर हाथ जोड़ लिया । पदड़ोंने शिक्षित लोग वचन सिंडे रहते है # ६ कि 1 घट पद अ/ ८ | पड मी 2 24 डर ? व्यय श्र प्स 1 2 हनी हू थम था पथ टी हि




User Reviews

अभी इस पुस्तक का कोई भी Review उपलब्ध नहीं है | कृपया अपना Review दें |

अपना Review देने के लिए लॉग इन करें |
आप फेसबुक, गूगल प्लस अथवा ट्विटर के साथ लॉग इन कर सकते हैं | लॉग इन करने के लिए निम्न में से किसी भी आइकॉन पर क्लिक करें :