हिन्दी गुजराती कोश | Hindi Gujrati Kosh

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : हिन्दी गुजराती कोश - Hindi Gujrati Kosh

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about मगनभाई प्रभुदास देसाई -Maganbhai Prbhudas Desai

Add Infomation AboutMaganbhai Prbhudas Desai

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
अंक पु० (स ) अक सख्यानो आकडों (२)आक निशान (३) नाटकतो अक (४) खोछो. - देना - मरना -लगाना ० भेटवु जुओ अँकवार देना [आकडानु गणित अंकगणित पुं० (स.). सख्यानुं- अँकड़ी स्त्री जुओ अँकुडी अंकन पु० (स ) आकवु ते आकणी अंकपाली स्त्री (स.) घाव आया अंक्रमाल पु० गढे वाझीने भेटवु ते - देना भेटवु [घान अँकरा पु० घउ भेगु ऊगतु एक हलकुं अँकवार स्त्री गोद छाती. -देना -भरना- भेटवु छाती सरसु लगाववु अँकाई स्त्री० आकवु ते जुओ अँकाव अकाना स०क्रि० ( आँकना नु प्रेरक ) अकाववु अदाज कढाववों (२) परखाववु परीक्षा कराववी [अटकछ अंक्ाव पु०आकवानु कार्म (२) अदाज अंकित वि० (स ) गाकेलु के गकायेलु अँकुड़ा पु० आकडो अंकुड़ी स्त्री नानो आकडों अँकुड़ोीदार वि० आकडावाठ्ु अंकुर पु० (स )अकुर नवो फटेलो फणगो -भाना उगना निकलना फटना फंकना -- अकुर फूटवो [ अकुरवाछ्ठु अंकुरित वि० (स) अकुर फटेठ अकुश पु० (स )हाथीनो अकुश (२) प्रतिबंध काबू दाव (-देना रखना) ्‌ अंकुदषग्रह पु० (स ) महावत अँकुस पु० अंकुश अंकुसी स्त्री आकडी हुक अंकोर पु० अंक खोछो (२) भेंठ नजराणु (३) लाच (४) खेडूतनु भाथु के भात [ भेटवु ते अँकोरी स्त्री० अक खोढठो (२) अँखड़ी स्त्री आख.. [मिचौली अँख-मीचनी स्त्री जुओ आँख- अँखिया स्त्री आख अंखुआ पु० (स. अकुर) बीजमाथी फूटतो अकुर के कूपठ. - आना उगना निकलना फूटना फेकना लेना - अकुर फूटवों [ ऊगवु अँखुआना अ० क्रि० अकुर फूटवो मंगड़-खंगड़ वि० वष्युघट्यु तुट्यु- फूट्यु (२) पुं० भगार अंग पु० (स.) अग शरीर (२) भाग टुकडो. - करना अगीकार करवु - देना ० वामकुक्षी करवी. -मोड़ना - लज्जाथी शरीर सकोचव्‌ (२) गाठस खावी.-लगना पचनु लोही लई पुष्ट थबूं (२) कोईना खपमा आववु -लगाना - भेटवूं (२) स्वीकारवु अपनाववू (३) लग्न कराववु अंगज वि० (स ) अगमाथी जन्मेल (२) पु० पुत्र परसेवो वाठ काम क्रोध इ०. भंगजा स्त्री० पुत्री




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now