हिन्दी गुजराती कोश | Hindi Gujarati Kosh

5 5/10 Ratings.
1 Review(s) अपना Review जोड़ें |
Book Image : हिन्दी गुजराती कोश - Hindi Gujarati Kosh

लेखक के बारे में अधिक जानकारी :

No Information available about मगनभाई प्रभुदास देसाई -Maganbhai Prbhudas Desai

Add Infomation AboutMaganbhai Prbhudas Desai

पुस्तक का मशीन अनुवादित एक अंश

(Click to expand)
अंगडाई अपुली अंगडाई स्त्री शरीर फाटवु ते जम के ताव नावता पहल २ आछसंयी के दरीर जकडाईन अवकड थयु हाय तेवी दारीरना जगो ताणता फलाववा. ते. -तोडना नाठ्सु वढठा रहवु काम न करवु अगडाना अ०क्रि० दारीर फाटवु २ आाठम काढचा के अगो अकडावायी शरार ताणवु-सेंचवु अगण पुल आगणु . वखतर कयच अगजाण पु० से अगरसु २ अगदान पु० स पीठ दंखाडवी युद्धमा पाछू पडवु ते अंगना पुर प आगणु अगना सनी सं सुदर स्त्री अगभग पुर स अगनी खाद अपगता २ वि० साडीलु अगभगी स्नी० स भगी नखरा शरीरना कामुक चाठा अगभाव पु० रा अगनी चेप्टाथी चतावातों मनोभाव अगभूत पु० स जुनो अगज पुन २ वि० अतगत नगनु अगमद पु० स अग फाटवु के कठवु ते २ अग दावनार - चपो करनार अगरखा पु० अगरखु अगा अंगरा पु० नगारो अगराना न० सि० जुओ जेंगडाना अंगरेखे प० अग्रज अँगरेची स्त्री अप्रेजो भाषा अगलेट पु० स्त्री ०ररीरनु कादु-वाधो अँगवना स० क्रि० प . सहवु खमवु वेठवु कामदेव अगहीन वि० स अपग २ पु० जगा पुर जगरपु जगाकड़ी स्पी० नगार उपर शकीन बरेली राटी बाटी अगार पु० स जगारा -उगलनां जगारा जवा बाल बढढवा आग वपावदी -पर पर रसना जाणों ज़ाईने नुवसान वे. मुस्‍्केलीमा ऊतरवु लाल अगारा वि० टाल चोढ सूब गुस्स थयलु अमारक पु० सं अगारो २ मगछ ग्रह झाड अगारपुष्प पुर स इगारी इंगुदीनु अगारमणि पु० स माणवा बिल अगारवलली स्त्री० से चणीठीनी अगारा पु० अगारो अगारिणी स्ती० स सगडी २ सूर्यास्तनी दिगा - पदिचम अगारो स्नी० नानों जगारो तणखी २ चिनगारी ३ संगडी अंगारी स्नी० सेरडीना साठा परना पान २ गडरी शरडीना बडवा अंगियां स्वो० स. अगिका प्रा अगिया चोठी स्वीनु कापड़ जगी पुर स देहघारा अगीकार पु० स स्वीकार अगीकृत चि० स स्वीइत मजूर अपनावेलु अंगीठा पुर सर. मस्ति केस्था मोटी सगडी अँगोठो स्त्री सगड़ी अगुर पु० लगुल आगद्ठ अमुरी स्नी० अयुली आंगठो अगुल पु० स आगठ अगुली स्त्री स आागढी २ हाथीनी सूढनू टरवु




User Reviews

No Reviews | Add Yours...

Only Logged in Users Can Post Reviews, Login Now